सच्चे मन से पूर्वजो पे शरधा

सच्चे मन से पूर्वजो पे शरधा दिखाइए,
अपने पितरो का पावन वरदान पाइये,
पितर खुश होंगे तो दुःख मिट जायेगे,
बिन मांगे ही जग में समान पाइये,

कहते है पूर्वजो की किरपा जब मिले,
सोई तकदीर के दरवाजे खुले ,
चरणों में उनके भक्ति से सिर झुकाइये,
बिन मांगे ही जग में समान पाइये,

अपने पितरो को जो याद करते याहा,
पूर्वजो की दया से फुले फलते याहा,
पितर देवता है उनका गुण गान गाइये,
बिन मांगे ही जग में समान पाइये,

पितर जिसके दुखी हो भटके यहाँ,
उनके परिवार ही दुःख में रहते यहाँ,
हाथ जोड़ पितर पक्ष में शमा माँगिये
बिन मांगे ही जग में समान पाइये,
श्रेणी
download bhajan lyrics (65 downloads)