ढोल सुनलो दुनिया वलयो

सुनलो दुनिया वालयो मैं ढोल वजाके कहना वां,
जेहड़ी चीज़ दी पये जरूरत ऐसे माँ तों लेना वां,

नौ रतना दे नाल भरे इस दाती दे भण्डार ने,
इसदे शाही लंगरां चों ही ढिड भरिया संसार ने,
कुल सृष्टि दी पालनहारी दे मैं पैरी पैना वां,
जेहड़ी चीज़ दी पये जरूरत ऐसे माँ तों लेना वां,

किस वेले मैनू चाहिदा की ऐथे देना अर्जी ए,
कदों किसे नू की देना वैसे तां एहदी मर्जी ए,
जदों किते एह देर ए करदी, अड़ के मैं वी बहना वां,
जेहड़ी चीज़ दी पये जरूरत ऐसे माँ तों लेना वां,

जदों उडीकां दे सागर विच दिल ए गोते खाँदा ए,
माँ पुत्र दा मिठ्ठा मिठ्ठा झगड़ा वी हो जांदा ए,
उच्चा नीवां बोलके मैं गुस्सा वी एहदा सहना वां,
जेहड़ी चीज़ दी पये जरूरत ऐसे माँ तों लेना वां,

एहियो ए निर्दोष दाती एसे तों ही मंगना ए,
इसदी किरपा बिना तां मेरा पल वी नाइयों नंगना ए,
कदे कदे कई कई वारि एहदे, दर ते ढहना वां,
जेहड़ी चीज़ दी पये जरूरत ऐसे माँ तों लेना वां,

download bhajan lyrics (130 downloads)