बोल के जय कारा पौणाहारी दर जाईदा

बोल के जय कारा पौणाहारी दर जाईदा,
श्रद्धा दे नाल जाके शीश झुकाई दा,
बोल के जय कारा पौणाहारी दर जाईदा,

जोगी दे द्वारे उते रोनका ने बड़ियाँ,
लमियाँ कटारा विच संगता ने खड़ियाँ,
रख विश्वाश गुण बाबा जी दा गाई दा,
बोल के जय कारा पौणाहारी दर जाईदा,

संजीव सुखदेव उते कर्म कमाया है,
सुख पा ले एह्दे दर तो सब कुछ पाया है,
मूरति नु बाबा जी दी दिल च वसाई दा,
बोल के जय कारा पौणाहारी दर जाईदा,

चेत महीने दर झंडे सोहने चढ़ दे,
नाज जाहे जोगी दर झोली अड़ खड़ दे,
कपिल आखे धुनें दा टिका भी लगाई दा,
बोल के जय कारा पौणाहारी दर जाईदा,
download bhajan lyrics (43 downloads)