कल नु मैं जंगली टूर जाना

कल नु मैं जंगली टूर जाना,
मुड न आना फेर नि गल सुन ले माये,
आखा चो हंजू न गेर नि गल सुन ले माये

एमे जोगी छड़ न जावी,
जावी न बिछोड वे तू मुड आ जोगी,
माता रही है तेरी मोड़,

बारहा साला दी आ लै लस्सी ते रोटियां,
सीना मेरा साडेया क्यों गला करे खोटियाँ,
आ ले माये साम्ब ले गावा,
लावी न तू देर नि,
नि गल सुन ले माये मुड के ना आना एथे फेर नि,

पुत्रा वाजो केहड़ा जोगियां छड़ के मैनु न जाए,
और छीन बिछोड़े पा ले मेरे सीने दे विच न लाइ,
पाल तेरियां मिन्ता करदी मिंत करा हाथ जोड़,
तू मुड आ जोगी माता रही है तेरी मोड़