रेहमता नाल झोलियाँ भर दितिया

पौणाहारी दूधाधारी दी मेरे मन न मूरत माह गई है,
रेहमता नाल झोलियाँ भर दितिया बाबे दी किरपा हो गई है

दर दर ते धक्के खादे सी कोई सुन दा न सी अर्ज मेरी,
मेहनत दा मूल न मिलदा सी सब कर दे सी हीरा फेरा,
होगी निगा सवाली योगी दी तकदीर साड़ी चंगी हो गई है,
रेहमता नाल झोलियाँ भर दितिया बाबे दी किरपा हो गई है

जड़ो वक़्त बड़लिया बेब ने सब लैन सलाहवा आउंदे ने,
ओहि करा फैसले स्थ विच मैं ओ सब दे मन न भौंदे ने,
कारा कोठियां दितिया बाबे ने रिद्धि सीधी कॉल ख्लो गई है,
रेहमता नाल झोलियाँ भर दितिया बाबे दी किरपा हो गई है

सपने विच दर्शन दे दिते बाबे ने कर्म कमाया है,
किरपा नाल जापी आटे वाला आज चारे पास छाया है,
सच आखे रवि मठठिया दा मेरी रूह जोगी विच खो गई है,
रेहमता नाल झोलियाँ भर दितिया बाबे दी किरपा हो गई है
download bhajan lyrics (43 downloads)