गुरु जी तेरे प्यार के दीवाने आ गये

गुरु जी तेरे प्यार के दीवाने आ गये,
दीवाने आ गये दीवाने आ गये,
मस्ताने आ गये मस्ताने आ गये,
गुरु जी तेरे प्यार के मस्ताने आ गये,

सुबह शाम प्यारे के दरशार रहती है,
तुमको मिलने के लिए त्यार रहती है,
ये सारे ही दीदार के बहाने आ गये,
गुरु जी तेरे प्यार के दीवाने आ गये,

तेरी रेहमत के साये में हम ऐसे जीते है,
जब चाहे प्रेम प्याले हम भर भर पीते है,
अपना समय अरमान ये लुटाने आ गये,
गुरु जी तेरे प्यार के दीवाने आ गये,

दुगरी दरबार ही हम सब को प्यारा है,
भक्त भी तो कहता है स्वर्गो से प्यारा है,
अपनी अपनी हज़ारी लगवाने आ गये,
गुरु जी तेरे प्यार के दीवाने आ गये,
download bhajan lyrics (38 downloads)