दरबार में सतगुरु प्यारे के

दरबार में सतगुरु प्यारे के दुःख दर्द मिटाये जाते है
दुनिया के सताए लोग यहाँ सीने से लगाए जाते हैं


यह महफ़िल है देव्वानो की हर एक यहाँ दीवाना है
भर भर के जैम यहाँ इबादद के सब को पिलाये जाते हैं
दरबार में..........

जिनको कुछ दर्द है सतगुरु का उनपर है रहमत सतगुरु की
बस उनका सन्देश अत है और वह भी बुलाये जाते है
दरबार में........
download bhajan lyrics (24 downloads)