माँ तेरी जरुरत है कालका

फड़ ले मेरा हाथ कालका,
मैं भी हु तेरा लाल कालका,
बिठा के अपनी गोदी विच माँ कर मेहरा दी छा,
माँ तेरी जरुरत है कालका तेरी जरुरत है,

कस के मेरी बांह तू फड़ ले कही मैं रूल न जावा,
मैं सुनिया जग विच हुंडिया ने माँ वा ठंढियां छावा,
तेरा द्वारा छड़ के माये नई जावा केहड़ी था,
कालका तेरी जरुरत है.......

अमनी वाजो सुना अँधेरा कहन्दे लोग सयाने,
माँ दे वाजो बच्चियां दा दर्द कोई ना जाने,
सबना नु मैं परख लिया है संजा दर तेरा माँ,
कालका तेरी जरुरत है......

जगावा दीपक तेरा कालका आस न तेरी तोड़ी,
तेरे दर से आया मियां हूँ ते मुख न मोड़ी,
छड़ दे अड़ियन मात कालका हूँ ते करदे हां,
कालका तेरी जरुरत है
download bhajan lyrics (106 downloads)