जे मैं तैनू भूल के भुला वी गया

जे मैं तैनू भूल के भुला वी गया मेनू तू न भुलाई,
जे मैं कदे नाल तेरे रुसाया नि माँ मेनू खुद ही मनावी,

बचियाँ दा मावा उते हक हुंदा,
माँ दे बगैर बच्चा कख हुंदा,
संग एह जमाना भावे लख हुंदा है,
माँ दा प्यार सबतो वध हुंदा है,
मेहरावालिये नि आज मेहर गले बचियाँ नु लावी,
जे मैं तैनू भूल के भुला वी देया.....

जग ठुकराए परवाह कोई नही,
तू जे दुध्कारे फिर कोई था कोई नही,
तेरे ही इशारे संसार चलदा कुदरत दा एह कारोबार चलदा,
सुन के पुकार इक वार दातिये घर बचियाँ दे आवी,
जे मैं तैनू भूल के भुला वी देया

तेरे दर उते दाती थोड़ कोई नि,
आना पेंदा मंगने दी लोड कोई नही,
उचिये नि नीवेया दे वल तक ले,
बचियाँ निमानिये दी गल रख ले,
चंचल दे दिल विच रहन वालिये,
मेनू दिल च वासवी,
जे मैं तैनू भूल के भुला वी देया

मैं नीवी उचीयाँ पहाडा वालिये,
निगा निवियाँ दे पल जरा मारी,
download bhajan lyrics (19 downloads)