मीत तू ही सँवारे तू ही पालनहार है

मीत तू ही सँवारे तू ही पालनहार है,
दुःख में मेरा साथी तू ही सुख का तू भंगार है,
मीत तू ही सँवारे तू ही पालनहार है,

मेरे पल में मेट्टा है संवारा तू गम,
सागर का कठिनाई को श्याम तू ही हर दम,
ये मेरे जीवन की बगियाँ तुझसे ही गुलजार है,
मीत तू ही सँवारे तू ही पालनहार है,

दीनो का नाथ तू ही है हारे के हुए के है साथ,
सिर पे मेरे बना रहे यु श्याम तेरा हाथ,
तुझसे ही ये मोहन चलता ये मेरा संसार है,
मीत तू ही सँवारे तू ही पालनहार है,

तू श्याम सदा रखता है हर्ष भक्त का मान,
तेरा सेवक तुझसे पाए तेरी दया का दान,
तू मेरी नैया का माझी बस तू ही मेरी पतवार है,
मीत तू ही सँवारे तू ही पालनहार है,
download bhajan lyrics (113 downloads)