गणपति गणेश काटो कलेश

विघ्न हरण मंगल करण गौरी पुत्र गणेश,
नंद के दाता प्रभू काटो सकल कलेश.....

गणपति गणेश काटो कलेश,
विघ्न हरोऔर मंगल कर दो,
आनंद के दाता आनंद कर दो,
आनंद आनंद आनंद भर दो,
सबसे पहले हम  तुमको मनाते,
फिर सारे देवी देवता को बुलाते,
तेरे पूजा से सुभ‌ काम सब होता है,
तेरे ही पूजा में सुभ लाभ होता हैं,
आकर ये पूजा सफल मेरा कर दो,
आनंद के दाता आनंद भर दो,
आनंद के दाता आनंद कर दो.......

लेखक-भजन सिंगर हरिवंश प्रताप
श्रेणी
download bhajan lyrics (244 downloads)