महिमा तुम्हारी गजानन

महिमा तुम्हारी गजानन
है सबसे न्यारी न्यारी
आलौकित कर रही है                                                  
जग को छवि तुम्हारी
मात है जग जननी -

संग पिता महादेव त्रिपुरारी
आलौकित कर रही है                                        
जग को छवि तुम्हारी
लम्बोदर तुम्हीं हो -

हो तुम चतुर्भुजा धारी
महिमा तुम्हारी गजानन
है सबसे न्यारी न्यारी
आलौकित कर रही है                                  
जग को छवि तुम्हारी
रिद्धि सिद्धि के दायक -                

तुम जगत पालक जगत नायक
प्रथम पूज्य तुम्ही हो -
करें पूजा सभी तुम्हारी
महिमा तुम्हारी गजानन
है सबसे न्यारी न्यारी
आलौकित कर रही है        
जग को छवि तुम्हारी

राजीव त्यागी 8285246134
श्रेणी
download bhajan lyrics (19 downloads)