जो मन से तुम्हारी भक्ति करे

जो मन से तुम्हारी भक्ति करे,
लक्ष्मी जी उन पर कृपा करिए......

विष्णु की जीवन संगिनी हैं,
बैकुंठ में उन संग बैठी हैं,
चहुं ओर मंगल होता है,
हो गगन या धरती क्या कहिए......

घर द्वार सजाया जाता है,
दीपावली दिन जब आता है,
कमलों की सजावट होती है,
फूलों की खुशबू क्या कहिए......

जो गायत्री पूजा करता हो,
सद्गुण का पालन करता हो ,
कोई पीड़ा नहीं होती उसको,
ऐसे जन को श्री कहा कहिए......
download bhajan lyrics (204 downloads)