साड़ी पूरी किती आस

साड़ी पूरी किती आस ते मुराद,
अम्बे मेरी शेरावालीऐ ,
साड़ी नेडे होके सुनी फरियाद,
अम्बे मेरी शेरावालिए ......

विन मंगीया दाती सब कुछ दिता ए ,
तेरे दर तो ही दाती सब कुछ लिता ए,
सानू दुखा तो तू किता ए आजाद,
अम्बे मेरी शेरावालिए .........

तेरे नाम नाल दाती साडीया तरक्कीया ,
हर पल हर घडी इज्जता तु रखीया ,
तेरे वाजो न कोई होर रेहा याद ,
अम्बे मेरी शेरावालिए .........

रवि सिर ताज रखाया मेरी दाती ने,
नाम ' संजीव ' दा चमकाया मेरी दाती ने ,
असी नौकर तो बने शहजाद ,
अम्बे मेरी शेरावालिए ...........
download bhajan lyrics (31 downloads)