रिशियो की धरोहर को मिटने ना हम देगे

गौमाता की ख़ातिर हम प्राण गवा देगे
रिशियो की धरोहर को मिटने ना हम देगे

चिंगारी शुलकेगी कोहराम मचा देगे
भारत की भुनी पर जन जन को जगा देगे
जन जन को जगा देगे
ईस देश मे फिर से हम ब्रम्ह जोत जगा देते
रिशियो की धरोहर को.......

कुछ दुष्ट दरिन्दो ने गों मां को सताया है
अपना घर भरने को गों मां को मिटाया है
गों मां को मिटाया है
ईन महापापियो को हम सबक सिखा देगे
रिशियो की धरोहर को......

घर घर जाकर के हम आवाज लगायेगे
गौ हत्या बंद करो गुहार  लगायेगे
गुहार सदायोगी
गौ वंश बचाने की हम सपथ आज लेंगे
रिशियो की धरोहर को मिटने.......

विश्व गौ मंगल माता गर बच ना पायेगी
धरती धिकारेगी जननी पछतायेगी
जननी पछतायेगी
राजु मरते दम तक हम फर्क निभायेगे
रिशियो की धरोहर को मिटने......
गौमाता की ख़ातिर हम प्राण गवा देगे
रिशियो की धरोहर को मिटने ना हम देगे
गीतकार राजु उगाणी असम

गायक नवरत्न पारीक 9887140192
                   
श्रेणी
download bhajan lyrics (183 downloads)