टुकर टुकर देखे माँ नैना मेरे

टुकर टुकर देखे माँ नैना मेरे तेरे पिंडियो को माँ तेरे पिंडियो को
देख देख रातेमाँ गुजर ती गई
तेरी पिंडियो को माँ तेरी पिंडियो को
टुकर टुकर देखे माँ नैना.....

बड़ी दूर से मैं तेरे द्वार आई
तेरी तीन पिंडियाँ माँ मन को लुभाई
इक बार देखा तो देखते रहे
तेरी पिंडियो को माँ तेरी पिंडियो को
टुकर टुकर देखे माँ नैना.....

तीन रूप माँ तेरे है सब चरणों से बेहते है गंगा के धारे,
खड़ी तेरे सन्मुख हम ताक ते  रहे
तेरी पिंडियो को माँ तेरी पिंडियो को
टुकर टुकर देखे माँ नैना.....

योगी माँ के चरणों की बात है निराली गुफा में विराजी है माँ शेरोवाली,तीन दिशा पर्वत है घेरे खड़े
तेरी पिंडियो को माँ तेरी पिंडियो को
टुकर टुकर देखे माँ नैना.....