खा के डेडे ठोकरा माँ अा गये तेरे भवना ते

खा के डेडे ठोकरा माँ अा गये तेरे भवना ते,
सांनु अजे होये ना दीदार,

केहड़ी ऐसी खोट माँये साढे़या नसीबा विच,
बैठेया नु हो गये दिन चार
खा के डेडे ठोकरा माँ अा गये तेरे भवना विच...

माँ नही बाप नही कोई भैण नही भाई कोई नही
दुनिया विच साढां कोई होर ना,
किदे कोल खोल दईऐ तिद दीयां गंडा दस
किसे ऊते साडा कोई जोर ना,
असीं नहीओ देखेया माँ  निगह कदे गोद वाला,
कूट का ला सीने ते देदे प्यार,
सांनु अजे होये ना दीदार.......

सुनया है तेनु लोकी कहिंदे जगत दाती,
तूहीओ इन  सबदा सहारा ऐ,
फेर साडा  नहियो मझधार विच फसया दा,
तेरे बिना दिसदा किनारा ऐ,
दुनिया तो मोह खा गई साड़ी नोच नोच ,
तुवी साडी सुनी ना पुकार,
सांनु अजे होये ना दीदार......

दिला दे जानदी ऐ दस एहने बच्चेया ने,
केङे ऐसे कर ले गुनाह ने,
भरी तेरी दुनिया विच सुने सुने फिरदे ने,
तेरे कोलो मगंदे पनाह ने,
रखी ए तू लाज इस बछड़े शिकंदर दी,
बाँ फङ ला सांनु वी तार,
सांनु अजे होये ना दीदार ........
download bhajan lyrics (174 downloads)