अम्बे मैया के दर

अम्बे मइया के दर, लेके लाली चुनर
जयकारा लगाया ,मज़ा आ गया
भक्ति भी मिल गयी,शक्ति भी मिल गयी
रूप में में समाया, मज़ा आ गया

तेरे दर्शन को व्याकुल हैं बालक सभी
लिए पूज की थाली कतार लगी
हुए दर्शन तेरे, खुल गए भाग्य मेरे
जब शीश झुकाया मज़ा आ गया

तेरी पूजा से मिलती है शक्ति अपार
अपने भक्तों का करती है तू बेड़ा पार
चरणों में लाल फूल, हैं चढ़ाय प्रफुल
मेरा मन मुस्कुराया मज़ा आ गया
download bhajan lyrics (16 downloads)