माये नि बड़ा डर लगदा ऐ

ये कैसी अजब बिमारी है जिहने पट ली दुनिया सारी ऐ,
तनु आउना पैना हूँ माये बचैया ने हिमत हारी है
सच दसिये ते हूँ जेल जेहा घर लगदा है,
माये नि बड़ा डर लगदा ऐ,

मंदिर तेरे आके हाल सुना नहीं सकदे,
परदेशी मुड़ के वतना नु जा नहीं सकदे,
भेन भरा दे घर फेरा पा नहीं सकदे,
दुःख किसे दा जाके आज वन्दा नहीं सकदे,
कदे नहीं लुकना एह सोचा दा सफर लगदा है,
माये नि बड़ा डर लगदा ऐ,

कई विचारे रहा दे विच रूल गए ने,
हंजू बन के खाब किसे दे डुल गए ने,
भेद नसीबा वाले सारे खुल गए ने,
रोटी किस दिन खादी सी सब भूल गए ने,
कईया दा ते सडका ते बिस्तर लगदा है,
माये नि बड़ा डर लगदा ऐ,
download bhajan lyrics (198 downloads)