ऊँचे ऊँचे पहाड़ो पे

धुन- साँवरे से मिलने का
ऊँचे ऊँचे पहाड़ो पे, मईया जी का बसेरा है ll
हो नीचे हम रहते l ऊपर मईया जी का डेरा है,
ऊँचे ऊँचे पहाड़ो पे, मईया जी का बसेरा है l

मईया जी के द्वारे पे, अँधा पुकार रहा l
हो अंधे को आंखे दो l उसे तेरा ही सहारा है,
ऊँचे ऊँचे पहाड़ो पे,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,

मईया जी के द्वारे पे, कोढ़ी पुकार रहा l
हो कोढ़ी को काया दो l उसे तेरा ही सहारा है,
ऊँचे ऊँचे पहाड़ो पे,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,

मैया जी के द्वारे पे, निर्धन पुकार रहा l
हो निर्धन को माया दो l उसे तेरा ही सहरा है,
ऊँचे ऊँचे पहाड़ो पे,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,

मईया जी के द्वारे पे, बाँझन पुकार रही l
हो बाँझन को पुत्र दो l उसे तेरा ही सहारा है,
ऊँचे ऊँचे पहाड़ो पे,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,

मईया जी के द्वारे पे, कन्या पुकारी रही l
हो कन्या को वर घर दो l उसे तेरा ही सहारा है,
ऊँचे ऊँचे पहाड़ो पे,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,

मईया जी के द्वारे पे, भक्त पुकार रहे l
हो भक्तों को दर्शन दो l उन्हें तेरा ही सहारा है,
ऊँचे ऊँचे पहाड़ो पे,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,
अपलोडर- अनिलरामूर्तिभोपाल
download bhajan lyrics (67 downloads)