चरना विच दे था अमिए

सिफत सुनी तेरी बड़ी दाती,
बचिया दी फडदी बाह आमिये,
मेनू सारे जग ने ठुकराया चरना विच दे था अमिए,

कोई द्वार नही तेरे द्वार जेहा ना तेरा कोई साहनी है,
वर मंगदे तेतो देव मुनि तू शक्ति आप भवानी है,
ब्रह्मा विष्णु महादेव माये नारद जपदा तेरा ना आमिये,
मेनू सारे जग ने ठुकराया........

दुःख दर्द बन्दोदी दुखिया दे झोली विच खेरा पा दिंदी,
जेहरी डूब दी विच तूफाना दे ओ बेडी बने ला दिंदी
दुखा दिया धूपा विच तपदे बचिया ते करदी छा आमिये,
मेनू सारे जग ने ठुकराया.....

अंखा विचो अथुरु सुक गए ने,
तेरी दीद दी आस लगाई माँ,
मुद्ता तो रहावा तक दे आ भगता दी आस पुगाई माँ,
राही नु उदीका दर्श दिया साड़े पुरे होने चा आमिये,
मेनू सारे जग ने ठुकराया

download bhajan lyrics (107 downloads)