दुख दिल वाले तनु मैं सुनावा,

दुख दिल वाले तनु मैं सुनावा,
माँ आके जरा बेह सामने,
आप रोवा नाले तनु भी रोवावा,
माँ आके जरा बेह सामने,

दुरो दुरो दुःख तनु दसे कई बार माँ,
कदे भी तू आके पूछी नहियो सार माँ,
तनु कला कला तरला गिनावा,
माँ आके जरा बेह सामने,

बेरुखी तेरी मैनु समज न आई है,
होकया दा शोर तनु दिता न सुनाई है,
बाहा चूक के दुहाई पेया पावा,
माँ आके जरा बेह सामने,

दिल वाली दिल विच रह न जाए गल माँ,
सागर दे नाल किते हो न जाए छल माँ,
मूक जान न उडीका विच साहवा
माँ आके जरा बेह सामने,