जे मैं भी राधा नाम वाली थोड़ी पी लई एह ते की होया

जे मैं भी राधा नाम वाली थोड़ी पी लई एह ते की होया,
प्याली अमृत रस पान वाली थोड़ी पी लाई एह ते की होया,
जे मैं भी राधा नाम वाली थोड़ी पी लई एह ते की होया,

लोकि रोज मखाने जांदे ने साकी दे तरल पाउंदे ने,
जे मैं बरसाने धाम वाली थोड़ी पे लई ए ते की होया,

मैनु दुनिया दी परवाह नहीं किसी चीज दी कोई चाह नहीं
उस हरी दा मिलन करान वाली थोड़ी पे लई ए ते की होया,

इस नाम च बड़ी खुमारी है छूट जांदी दुनिया दारी है,
जे मैं भी मस्ती दे जाम वाली थोड़ी पे लई ए ते की होया,

जह्नु चस्का नाम दा लग जंदा उहनूं जग विच कुझ भी नहीं पाउँदा,
कहे मधुप परम कल्याण वाली थोड़ी पे लई ए ते की होया,

download bhajan lyrics (10 downloads)