ये भाव का ये भूखा मेरा संवारा बिहारी

ये भाव का ये भूखा मेरा संवारा बिहारी,
जो भाव से पुकारे दौड़े आते है बिहारी,
ये भाव का ये भूखा मेरा संवारा बिहारी,

मीरा का मोहना तू धन्ना का बन हाली,
कर्मा का भा के कीचड़ तू दे गया था ताली,
तेरी बाट में भी जो हु रख लीना लाज मेरी,
जो भाव से पुकारे दौड़े आते है बिहारी,
ये भाव का ये भूखा मेरा संवारा बिहारी,

नानी का बन के भाई तू ने रीत का निभाई,
नरसी की हुंडी को भी पल भर में है स्वीकारी,
हम बन गये सुदामा हम से निभालो यारी,
जो भाव से पुकारे दौड़े आते है बिहारी,
ये भाव का ये भूखा मेरा संवारा बिहारी,

खाटू में बन के बेटा है शीश का दानी,
तुम सा नहीं जगत में है तीन बाण धारी,
सत्या ने आके बाबा झोली खाली पसारी,
जो भाव से पुकारे दौड़े आते है बिहारी,
ये भाव का ये भूखा मेरा संवारा बिहारी,
श्रेणी
download bhajan lyrics (38 downloads)