हाथी घोड़े पालकी जय जय बावा लाल दी

हाथी घोड़े पालकी जय जय बावा लाल दी,
तू भी एह्दे नाम दी सारे संकट टाल दी,
हाथी घोड़े पालकी जय जय बावा लाल दी,

बावा लाल दयाल है गुरु न हर सेवक है प्यारा,
दुख दे भव सागर चो कर दिंदे भव थारा,
है रेहमत दा सागर कोई चीज न एह्दे नाल दी,
हाथी घोड़े पालकी जय जय बावा लाल दी,

तर जांदे सेवक ओह गुरु दी सेवा जेहड़े करदे,
सेवा दे विच मस्त ने रेह्न्दे दुनिया तो नहीं डरदे,
राम नाम दी माला सारे दुःख दलीदर टाल दी,
हाथी घोड़े पालकी जय जय बावा लाल दी,

जय सतगुरु दी बोल के तन मन हो ऐ जंदा पावन,
रेहमत दी बारिश बरसे रिम झिम सावन,
महरा दी इक बून्द सारी दुनिया नू है पाल दी,
हाथी घोड़े पालकी जय जय बावा लाल दी,

बावा लाल दे नाम दी धुनि मुक्ति दा दरवाजा,
छड़ के दुनिया दे सब धंदे गुरा दे चरनी आजा,
सूखा दी मिलेगी चाभी इथे हर सवाल दी ,
हाथी घोड़े पालकी जय जय बावा लाल दी,
download bhajan lyrics (12 downloads)