देखो देवघर मुझको जाना है

बोल भोले बम भोले बम भोले बम बोल भोले बम भोले बम,

देखो सावन के दिन आये देखो देवघर मुझको जाना है,
भांग धतूरा और गंगा जल भोले नाथ को चढ़ाना है,
देखो सावन के दिन आये देखो देवघर मुझको जाना है,

मेरे तो भोले बाबा करते है दूर भाधा इनको पसंद है जी भंगियाँ धतूरा गांजा,
महिमा को महादेव की सारी दुनिया ने माना है,
भांग धतूरा और गंगा जल भोले नाथ को चढ़ाना है,
देखो सावन के दिन आये देखो देवघर मुझको जाना है,

सावन के दिन जो आवे भोले के मन को भावे,
जो भी दर्श है पाता जीवन सवर ही जावे,
पावन कुलदीप उस दर से झोली भर के ही आना है,
भांग धतूरा और गंगा जल भोले नाथ को चढ़ाना है,
देखो सावन के दिन आये देखो देवघर मुझको जाना है,
श्रेणी