याद आई रे श्याम तेरी आई रे याद आई रे

याद आई रे श्याम तेरी आई रे याद आई रे

मेरे श्याम मुरारी मुझे दर्श दिखाओ,
मेरे श्याम मुरारी मुझे यु न सताओ

मेरे मन में चैन नही है,
कटते यह दिन रेन नही है ,
भर आई रे आंख भर आई रे याद आई रे,
याद आई रे श्याम तेरी आई रे याद आई रे

भूलो मेरी करम कहानी तेरी मेरी प्रीत पुरानी,
ये बतियाँ क्यूँ बिसराई रे याद आई रे,
याद आई रे श्याम तेरी आई रे याद आई रे

मुझे तुम क्यों रूठ गये हो विच बनवर मैं क्यों छोड़ गये हो,
मेरा तू ही इक हैं सहाई रे याद आई रे.
याद आई रे श्याम तेरी आई रे याद आई रे

फीके भोग विलास हैं सारे फीके पड़ गये चंदा तारे,.
ये किस्मत कहा ले आई रे याद आई रे
याद आई रे श्याम तेरी आई रे याद आई रे


Aashish Kaushik
www.aashishkaushik.in
http://bit.ly/AashishKaushik

श्रेणी