आ गया खाटू वाला वो आ गया खाटू वाला

आ गया खाटू वाला वो आ गया खाटू वाला,
मोहन मुरली वाला वो नीले घोड़े वाला,
आ गया खाटू वाला वो आ गया खाटू वाला,

तन केसरिया भागो सोहे,
गल फूलो की माला,
वो आ गया खाटू वाला वो आ गया खाटू वाला,

श्याम नाम तू क्यों नहीं लेता,
पड़ा जुबा पे ताला
वो आ गया खाटू वाला वो आ गया खाटू वाला,

इक निशानी हम बतलावे,
श्याम का रंग है काला,
आ गया खाटू वाला वो आ गया खाटू वाला,

गर्व तोड़ कर श्याम बहादुर,
झट खोला है ताला,
आ गया खाटू वाला वो आ गया खाटू वाला,