असि खोटे सिक्के हां दातिये हीरे पने करदे

लाइना विच खड़ के सारे तेरे ना दे लाऊँन जय कारे,
आये हां आसा लैके माँ करदो पार उतारे,
सब तेरे रंग विच रंगे ने माँ तेरे मस्त मलंगे ने,
तू निगहा मेहर दी करदे,
सब खोटे सिक्के हां दातिये हीरे पने करदे,
असि खोटे सिक्के हां दातिये हीरे पने करदे,

तेरे मंदिरा दी रौनक ने दिल नु मोह लिया है,
सच आखा माये मैनु मेतो खो लिया है,
सुध भूलगी सूरत भुला बैठी सब तेरे नाम ला बैठी,
मल ले ने बूहे दर दे,
सब खोटे सिक्के हां दातिये हीरे पने करदे........

तेरे घर विच कोई थोड़ नहीं बेअंत है तू,
जगजननी पालनहारी मां भगवन्त है तू,
तू बजीर नु चरनी ला अम्बे आज इको गल मुका अम्बे सुख जीवन दे विच भरदे,
असि खोटे सिक्के हां दातिये हीरे पने करदे,
download bhajan lyrics (11 downloads)