मैया जी तेरा प्यार प्यार सच्ची मुच्ची दा

मैया जी तेरा प्यार, प्यार सच्ची मुच्ची दा
प्यारा तेरा द्वार, द्वार सच्ची मुच्ची दा

सर मुकुट सुहाया, लाल चोला गल पाया
कन्ना विच झुमके, मत्थे तिलक सजाया
गल हीरिया दा हार, हार सच्ची मुच्ची दा
मैया जी तेरा प्यार...

तेरा दर है अनोखा, कदे मिलदा ना धोखा
तेरा नाम वाला मंतर, माए सबना तो सौखा
प्यारे वेदां दा है सार, सार सच्ची मुच्ची दा
मैया जी तेरा प्यार...

बड़े ज़ोरां दी हनेरी, माए डोल्दी है बेड़ी
फसी विच्च घुमन घेरी, बाह फड़ लै मेरी
तुसाँ करना ए पार, पार सच्ची मुच्ची दा
मैया जी तेरा प्यार...

दिन फिरदे ने ओदो, दाती देख लवे जदो
तेरे दर्शन दी तांग, दस आवेंगी माँ कदो
माए योगी नू वी तार, तार सच्ची मुच्ची दा
मैया जी तेरा प्यार...
download bhajan lyrics (668 downloads)