रोटी खा ले जोगियां वे

रोटी खा ले जोगियां वे ,
लेके आई तेरी माँ,
रोसा केहरि गल दा तनु भूख लगी न,

बनखंडी विच गौआँ चार दा तू मेरियाँ,
रूस्या न कर जे कर हो जान देरीया,
कदो दा सी बोल्दा वनेरे साढ़े का,
रोटी खा ले जोगियां वे

रीजा नाल रोटी लसी मैं  बनाई वे,
कोड वाली खोड़ विच चक के टिकाई वे,
भोजन टिकोण वाली दस केहरि था,
रोटी खा ले जोगियां वे......

थोड़ा थले लाके बालक बैठा ताड़ी वे,
रोटी लासी वल कदे तू नजर न मारी वे,
मुखो कुज बोले न तू हु ते न हां,
रोटी खा ले जोगियां वे

छेती छेती मोरा बचा घर वाला पाया कर,
दिन ढलने तो पेहला गौआँ तू लाया कर,
मैं बलिहारी चाँद वारि तेथो जा,
रोटी खा ले जोगियां वे
download bhajan lyrics (43 downloads)