मुँह मांगी भक्तो मुरादे पायेगा

श्याम धनि के दवार जो भी आएगा,
मुँह मांगी भक्तो मुरादे पायेगा,

ये द्वार है जग से न्यारा लगता है बड़ा ही प्यारा,
आकर यहाँ पर भक्तो जन्नत का कर लो नजारा,
मन हरषाये गा तन का रोग सब मिट जाएगा,
श्याम धनि के दवार जो भी आएगा,

श्री श्याम की करके भक्ति कष्टों से मिले गी मुक्ती,
भर जायेगा हर घर धन से खिल जाएगी भगियां मन की,
भाग खुल जाएगा संवारा सरकार बिगड़ी बनाएगा,
श्याम धनि के दवार जो भी आएगा,

कलयुग में श्याम के जैसा दातार नहीं कोई दूजा,
इस लिए जगत में इनकी होती है घर घर पूजा,
इन्हे जो धयेगा खाटू वाला शयाम दर्श दिखलायेगा,
श्याम धनि के दवार जो भी आएगा,

पावन ये खाटू  नगरी पावन है ये श्याम का डेरा,
एक बार यहाँ का तू भी राजेश लगा ले फेरा,
पाप कट जायेगा रामा तुझपे प्रेम सदा बरसायेगा ,
श्याम धनि के दवार जो भी आएगा,
download bhajan lyrics (80 downloads)