जिथे वज दे ने ढोल नगाड़े ओह दर मैया दा

शेरावाली दे कर लो दीदारे ओ दर मैया दा,
जिथे वज दे ने ढोल नगाड़े ओह दर मैया दा,

जगजनी माँ आंबे तनु कहन्दे आ मेहरावालीये तेरे चरनी बहने है,
सुन भवना दे तक लो नजारे ओ दर मैया दा,
जिथे वज दे ने ढोल नगाड़े ओह दर मैया दा,

सचिया ज्योता जगन तेरे दरबार दिया,
घोंसले वर्गे लखा पापी तार दियां
जिथे वज दे ने ढोल नगाड़े ओह दर मैया दा,

शेहरावली दा जो भी जयकारा लगनदा है,
मुहो मंगिया मुरादा पौंदा है,
तेरे भक्त आऊं गे सारे ओह दर मैया दा,
जिथे वज दे ने ढोल नगाड़े ओह दर मैया दा,
download bhajan lyrics (691 downloads)