आप के साथ रहना है बाबा हमें

आप के साथ रहना है बाबा हमें आप के पास चलना है बाबा हमें,
तोड़ कर के मन के सारे बंधन छोड़ कर दुनिया के व्यर्थ चिंतन,
आप की गोद में पलना बाबा हमें,आप के पास चलना है बाबा हमें,
आप के साथ रहना है ....

हर घडी अब तो मुझको सुहानी लगे,
बीते जीवन की हर पल कहानी लगे,
अब तो दुनिया ही मुझको पुराणी लगे,
अब ज़मीन आसमान सब रूहानी लगे,
एक श्री मत पे चलना है बाबा हमें,
आप के पास चलना है बाबा हमें

महक रहे फूल बाबा के बगियन में,
चहके मन पंक्षी संगम के गलियां में,
बरसे ज्ञान आँगन के बाबा तेरे बतियाँ में,
चलके योग की यमुना मेरे अँखियाँ में,
जीवन गुणों से भरना है बाबा हमें,
आप के पास चलना है बाबा हमें....