लूटी नहीं साइयो श्याम ने

लूटी नहीं साइयो श्याम ने मैं लारा ला के लूटी,
लारा लाके लूटी नहीं मैं नैन मिला का लूटी,
लूटी नहीं साइयो श्याम ने....

इक दिन सुपने दे विच मेरे दे गया मैनु लारा,
मखन मिश्री मंगवा के राखी आवा गा दोबारा,
श्याम दियां जुड़ाइयाँ साइयो सारी रात न सूती,
लूटी नहीं साइयो श्याम ने.....

जदो भी मिलदा जिथे भी मिलदा भाभी भाभी बोले,
साँस नन्द मेरे कॉल बैठी दिल मेरा पेय ढोले,
श्याम ने मेरी बांह जद पकड़ी मामा हाथो छूटी,
लूटी नहीं साइयो श्याम ने....

नल लेके ग्वाल बाल न घर मेरे आंदा,
विच कलेजे ठण्ड ओ पांदा मुरली मधुर बजनदा,
गोरा जी दा नाम नी लेंदा ओह्दी किस्मत फूटी,
लूटी नहीं साइयो श्याम ने......
श्रेणी