मेरे कान्हा मुरली वाले

मेरे कान्हा मुरली वाले क्यों न बतिया मेरी माने,
नित गोपियों के संग तू खेले मेरा प्यार न तू पहचाने,
मेरी राधा रानी कितना मैं तुझसे प्यार करू,
तुझपे ही तो मैं अपनी जान निशार करू,
सुन मेरी राधा रानी...

हर पल हर दम तुमतो बंसी बजाते हो,
बंसी बजा के तुम तो गोपियों को रिजाते हो,
ये जब देखे मेरी अँखियाँ ताना मारे मोरी सखियाँ,
मोहे भूख प्यास न लागे ना ही कट ती मेरी रतियाँ,
मेरी राधा रानी कितना मैं तुझसे प्यार करू,
तुझपे ही तो मैं अपनी जान निशार करू,
सुन मेरी राधा रानी...

बात बात पे मुझसे तुम सवाल करती हो,
हद से जयदा क्यों तुम मेरा ख्याल करती हो,
मैं देखु तेरा सपना कब बनेगा तू मेरा अपना,
मुझे नींद चैन ना आये कैसे आउ तेरे अंगना,
मेरी राधा रानी कितना मैं तुझसे प्यार करू,
तुझपे ही तो मैं अपनी जान निशार करू,
सुन मेरी राधा रानी...

प्रेम भाव के पल पे संसार चलता हु,
अपने भोले पल से राधा तुम्हे रिजाता हु,
मैं बरसाने की छोरी तेरी हर बतियाँ है कोरी,
रजनीश तेरे गन गए दर्शन को तेरे दर आये,
मेरी राधा रानी कितना मैं तुझसे प्यार करू,
तुझपे ही तो मैं अपनी जान निशार करू,
सुन मेरी राधा रानी...

श्रेणी
download bhajan lyrics (81 downloads)