देखे अवध हरसा के जनम

अरि मध्य दिवस न मी तिथि,
ना अति शीत ना घाम ओ ओ,
कौशल्या के लाल बन,
प्रकट भए श्री राम॥

अरि देखे अवध हरसा के,
देखे अवध हरसा के,
जनम भयो राम लाला के,
देखे अवध हरसा के,
जनम भयो राम लाला के,
देखे अवध हरसा के
जनम भयो राम लाला के॥

राम लाला के राम लाला के,
देखे अवध हरसा के,
जनम भयो राम लाला के,
देखे अवध हरसा के,
जनम भयो राम लाला के॥

सोने का पलना रेशम की डोरी,
रेशम की डोरी घुइयां रेशम की डोरी,
मइया भई धन्य झूला के,
जनम भयो राम लाला के,
मइया भई धन्य झूला के,
जनम भयो राम लाला के॥
श्रेणी