चलो रे शिरडी में है पावन धाम

चलो रे शिरडी में है पावन धाम साई ने सबको भुलाया है,
सारे बिगड़े बनालो काम साई ने सबको भुलाया है,
चलो रे शिरडी में है पावन धाम साई ने सबको भुलाया है,

तेरा भला साई करे जीवन में तेरे खुशिया भरे,
साई दयालु है शिरडी वाले सारे दुखो को पल में हारे,
जग में ऊचा उसी का है नाम,साई ने सबको भुलाया है,
चलो रे शिरडी में है पावन धाम साई ने सबको भुलाया है,

साई के दर पे जो भी गया,
होती है साई की उस पे दया,
खुशियों का संसार उसको मिले हर रोज मिलता जीवन नया,
नाम बाबा का लो सुबहो शाम,साई ने सबको भुलाया है,
चलो रे शिरडी में है पावन धाम साई ने सबको भुलाया है,

माया की नगरी को छोड़ प्यारे नाता साई से जोड़ प्यारे,
श्रदा सबुरी वाले साई की और मुख अपना मोड़ प्यारे,
साई चरणों को कर लो परनाम साई ने सबको भुलाया है,
चलो रे शिरडी में है पावन धाम साई ने सबको भुलाया है,
श्रेणी
download bhajan lyrics (31 downloads)