तेरी रेहमतो का दरिया

तेरी रेहमतो का दरिया सरेआम चल रहा है,
मुझे भीख मिल रही है तो काम चल रहा है,

तेरी आशिकी से पहले मुझे कौन जनता था,
तेरे इश्क ने बनाई मेरी ज़िन्दगी फ़साना,
तेरी रेहमतो का दरिया...........

उसे क्या रिजाये दुनिया जिसे आप ने नवाजा,
उसे क्या मिटाइए दुनिया जिसे आप ने नवाज,
नक़्शे कदम पर तेरे ये गुलाम चल रहा है,
तेरी रेहमतो का दरिया...........

तेरी मस्ती यह नजर से पनाचिस्ती में गाजा,
कही मैं बरस रही है तो कही जाम चल रहा है,
तेरी रेहमतो का दरिया...........

मेरी ज़िन्दगी की मकसद तेरे दर की हजारी है,
तेरा नाम चल रहा है मेरा काम चल रहा है,
तेरी रेहमतो का दरिया...........

तारीकियो में तुम था जे हयात सूफी हम्ज़र,
तेरी किस्बतो के सद के ये निजाम चल रहा है,
तेरी रेहमतो का दरिया...........
श्रेणी
download bhajan lyrics (2450 downloads)