बड़ा डिसेंट सांवरिया

बड़ा डिसेंट सांवरिया एक्सीलेंट सांवरिया ,
कलयुग के देवों का प्रेसिडेंट सांवरिया,

यह चाहे तो पल भर में पत्थर पर फूल उगादे,
आंधी तूफान रोक सके ना रेत पर नाव चला दे,
उसे निभावे करे जो एग्रीमेंट सांवरिया.....

सारे जग में ढूंढ लो जाकर मिले ना ऐसा कोई बाबा,
अर्जी तय कर देता साहिब खुलती किस्मत सोई बाबा,
भाव देख कर देता है पेमेंट सांवरिया........

कोई भी चिंता फिक्र नहीं है जो इसका हो जावे.,
खाली झोली भर जाती है श्याम श्याम जो गाए,
बाबरा करता सेवा परमानेंट सांवरिया.......