आजा साईं शरण में तू आजा

आजा साईं शरण में तू आजा, दुःख सारे कट जाएंगे।
साईं को मन में बसा ले तू, मन में ज्योत जगाले तू॥

साईं यह मेरा घट घट की है जानता,
साईं की लीला को सारा जग मानता।
आजा साईं शरण में तू आजा,
दुःख सारे कट जाएंगे॥

इक बार डोरी साईं हाथों में तू सौम्प दे,
छोड़ दे भरम झूठे दिल में है जो तेरे।
आजा साईं शरण में तू आजा,
दुःख सारे कट जाएंगे॥


रख विशवास, झूठे जग को तू छोड़ दे,
साईं समाधि पे आजा हाथ जोड़ के।
आजा साईं शरण में तू आजा,
दुःख सारे कट जाएंगे॥


मेरी जान वी तू, ते ईमान वी तू
कण कण विच तू, हर रंग विच तू
मेरा मंदिर तू, मेरी मस्जिद तू
मथुरा वि रु, काशी भी तू
शिर्डी विच तू हर थां विच तू
श्रेणी
download bhajan lyrics (663 downloads)