जिसके नाथ साई नाथ वो अनाथ कैसे होगा

जिसके नाथ साई नाथ वो अनाथ कैसे होगा
अनाथ कैसे होगा वो अनाथ कैसे होगा,
साई चाह लेंगे दिन तो फिर रात कैसे होगा,

शिरडी सबके मन को भये,
जिसको भुलाये साई वही यहाँ आये,
साई कर देंगे आबाद तो बर्बर कैसे होगा,
जिसके नाथ साई नाथ वो अनाथ कैसे होगा

मन जब साई में राम जायेगा,
गम का बदल यु छट जायेगा,
साई प्यार के सौगात में अगात कैसे होगा,
जिसके नाथ साई नाथ वो अनाथ कैसे होगा
श्रेणी
download bhajan lyrics (127 downloads)