जीना राखियाँ तेरे ते माए डोरां

जीना राखियाँ तेरे ते माए डोरां,
ओह तां कड़े डोल्दे नहीं।
डोल्दे नहीं, ओह मुहों बोलदे नहीं ॥
आवें नहीं घबराई दा,
बोल जैकारा माई दा॥

जेह्ड़े जेह्ड़े घर विच्च ज्योत तेरी जगदी,
ओहना नु नुसीब्ता दी हवा वी ना लगदी।
भावें आन मुसीबतां करोड़आं,
ओह ते कड़े डोल्दे नहीं॥

कण कण विच तेरी महक समाई ए,
ममता दी छा हेठां दुनिया वसई ए।
जीना चुम लईआं रावां दिया रोड़ा,
ओह ते कड़े डोल्दे नहीं॥

रूह रूह अंग अंग तेरा करजाई ए,
मंग्दिया लेखा एह तान तेरी वडाई है।
जीनु रहन तेरीआं लोडां,
ओह ते कड़े डोल्दे नहीं॥

झोली अड़ के बह गया, आ माँ दीदार दे,
लाखां पापी तर गए, नी मैनू वी माँ तार दे,
जीना राखियाँ तेरे ते माए डोरां,
ओह तां कड़े डोल्दे नहीं॥

तेरे जही माँ होवे, मेरे जेहा लाल माँ,
एस कोलो वद होर कहदा ए कमाल माँ।
करे जिन्ना दिया दूर माँ लोडां,
ओह ते कड़े डोल्दे नहीं ॥
download bhajan lyrics (972 downloads)