मेरी मात चली आओ

मेरी मात चली आओ भक्तों ने पुकारा है,
भक्तों ने पुकारा है हमे तेरा सहारा है…..

मझधार पड़ी नैया ये डगमग डोला खाये,
मिल जाओ हमे आ कर हम भव तर जाए,
हम लाख अनाथों का एक तू हे सहारा है,
मेरी मात चली आओ भक्तों ने पुकारा है…….

चारों तरफ को छाया माँ घनघोर अँधेरा है,
जब जाए कहाँ बोलो तूफा ने घेरा है,
हम दीन अनाथों का एक तू हे सहारा है,
मेरी मात चली आओ भक्तों ने पुकारा है…….

मैया तेरे चरणों की बस धूल जो मिल जाए,
भकटे हुए राही को बस मंजिल मिल जाए,
किस्मत ही चमक जाए जैसे तारा चमकता है,
मेरी मात चली आओ भक्तों ने पुकारा है…….
download bhajan lyrics (174 downloads)