ऐंवे नी घबराई दा

ऐंवे नी घबराई दा,
बोल जयकारा माई दा,
दाती हर दम नाल तेरे ,
नही हौसला ढ़ाहिया दा,
ऐंवे नी घबराई दा
बोल जयकारा माई दा...

क्यो दुखा दीयां गला करदे,
सुख दी मंजिल दूर नही ,
सब दीयां इच्छा पूरीया करदी,
दाती ते मजबूर नही,
जिसदे कृपा जग दाती दी,
उस नु होर की चाहिदा,
ऐंवे नी घबराई दा
बोल जयकारा माई दा...

जो वी इसदे दर ते झुकीया ,
होर किसे दर झुकिया नही,
अगे अगे वध दा जावे,
कदम कदे वी रूकिया नही,
जैसी इच्छा विच मन होवे,
वैसा ही फल पाईदा,
ऐंवे नी घबराई दा,
बोल जयकारा माई दा...

आसारानी सब दीयां आसा,
पल विच पूरीया करदी ऐ,
अनपूर्णा बन के माँ,
भण्डारे सब दे भरदी ऐ,
जो देवे ओह ले के भक्तो,
माँ दा शुक्र मनाई दा,
ऐंवे नी घबराई दा,
बोल जयकारा माई दा....

भागा वालेओ भर लो झोलिया
जोत नुरांनी जग गई ऐण
खुले दर्शन कर लो भक्तो
शेर सवारी सज गई ऐ
सारे रल मिल जोत जगाओ
मैया दा गुण गाईदा
ऐंवे नी घबराई दा
बोल जयकारा माई दा....
download bhajan lyrics (172 downloads)