भोले चला नहीं जाता सावन का मेला आ गया

भोले चला नहीं जाता सावन का मेला आ गया,
सावन का मेला आ गया सावन का मेला आ गया....

तेरे रस्ते में घोर अंधेर कैसे पर मैं आऊं,
मैं ज्योत जगा दूंगा तो क्यू रे भगत घबरा गया,
भोले चला नहीं जाता सावन का मेला आ गया....

मेरे पास ना पैसा धेला कैसे दर पर मैं आऊं,
मैं झोलियां भर दूँगा तू क्यू रे भगत घबरा गया,
भोले चला नहीं जाता सावन का मेला आ गया....

तेरे मंदिर ऊँची चढाई कैसे पर मैं आऊं,
मैं बाह पकड़ लूँगा तू क्यू रे भगत घबरा गया,
भोले चला नहीं जाता सावन का मेला आ गया....

डोले बीच भंवर मेरी नैया भोले मैं घबराऊ,
मैं पार लगा दूंगा तू क्यू रे भगत घबरा गया,
भोले चला नहीं जाता सावन का मेला आ गया....

लगा मन मंदिर में समाधि दे खोल तू मन के द्वार,
मैं दर्श दिखा दूंगा तू तक्यू रे भगत घबरा गया,
भोले चला नहीं जाता सावन का मेला आ गया....
श्रेणी
download bhajan lyrics (337 downloads)