रस्सी उत्ते टंगया पितांबर गोपाल दा

रस्सी उत्ते टंगया पितांबर गोपाल दा,
पितांबर गोपाल दा यशोदा जी दे लाल दा,
रस्सी उत्ते टंगया पितांबर गोपाल दा॥

पीला पीला रंग ओंदा प्यारा प्यारा लगदा,
श्याम दे बदन उत्ते किन्ना सोना लगदा,
कोई पता दस्सो मेनू प्यारे नंदलाल दा,
रस्सी उत्ते टंगया पितांबर गोपाल दा॥

मथुरा द्वारका मै लभ लभ हरिया,
गलियां बाजार भी मै सब झान मारेया,
किथे छुप गए हो तैनु सारा जग लभदा,
रस्सी उत्ते टंगया पितांबर गोपाल दा॥

सुन वे पितांबर तैनू बड़ा मै सजावागी,
गोटा किनारी नाले सिल्मा लगावांगी,
गली गली गीत गावा प्यारे प्रतिपाल दा,
रस्सी उत्ते टंगया पितांबर गोपाल दा॥
श्रेणी
download bhajan lyrics (42 downloads)