तीन बार भोजन भजन एक बारी

तीन बार भोजन भजन एक बार
बाबा तेरी माला जपे न एक बार

पहली वार माला जपने बैठी
आ गई पड़ोसन करन लगी बात
धर देयो माला बनाओ मेरा हार

दूजी बार माला जपने बैठी
आ गई बहु हान पटक दियो लाल
धर देयो माला खिलाओ मेरो लाल

तीजी बार माला जपने बैठी आ गई बेटी जमाई लेके साथ
घर देयो माला बिछाओ अब ठाठ
download bhajan lyrics (26 downloads)