बात म्हारी इतनी सी राख म्हारी माँ

बात म्हारी इतनी सी राख म्हारी माँ
चुनडी चडावा सवा लाख म्हारी माँ
दादी म्हारी दादी म्हारी

चुनडी का उत्सव इतना शानदार हो
जा जाए इसको पूरा संसार हो
भगता ने जुबान देदे आज म्हारी माँ
चुनडी चडावा सवा लाख म्हारी माँ

मैया तेरे भगतो को की लाम्बी हो कतार
चाहे हो अकेले चाहे पूरा परिवार
चुनडी रहेगी सब के हाथ मेरी माँ
चुनडी चडावा सवा लाख म्हारी माँ

चुनडी चड़े न सवा लाख जब तक
उत्सव माँ चलेगा दिन रात तब तक
रहेगी तू सिंह पे सवार मेरी माँ
चुनडी चडावा सवा लाख म्हारी माँ