तेरा लख लख शुक्र मनावा चिन्तापुर्णी माँ

तेरा लख लख शुक्र मनावा चिन्तापुर्णी माँ ॥
मैं तेरे ही गुण गांवा चिन्तापुर्णी माँ -आ-आ॥
तेरा लख लख शुक्र मनावा चिन्तापुर्णी माँ ॥

चरणा दे नाल लाके दाती ने, इज्ज़ता साडीयां रखीयां ने ॥
रुस दा ऐ जग रूस जावे पर ,माँ नाल प्रीता पक्कीया ने॥
मै तेरा दास कहावा आ_आ
चिन्तापुर्णी माँ आ आ आ ॥

तेरी किरपा नाल दातीये ,चिंता मुक गई मेरी माँ॥
कर के रहमत झोली भर के,किस्मत फेरी मेरी माँ॥
नाले कीतीयां ठण्डीयां छांवा॥
चिन्तापुर्णी माँ आ आ आ॥

तेरे दर ते नच दा, फिर दा अमित धर्मकोटी माँ॥
तेरे होके चमकी ऐ,धु दी किस्मत खोटी माँ॥
नाले दसीया आपे रावा आ आ आ २॥
तेरा लख लख शुक्र मनावा चिन्तापुर्णी माँ आ आ आ॥

SINGER : अमित धर्मकोटि
मोबाइल नंबर :: ९८१५१ 54501
download bhajan lyrics (148 downloads)